पंजाब

*आप की नीतियों के चलते अलगाववादी एक बार फिर से पंजाब में सिर उठा रहे हैं: कांग्रेस*

चंडीगढ़, 1 अक्टूबर: पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने आम आदमी पार्टी सरकार के राज्य में अलगाववादियों और उग्रपंथियों की गतिविधियों को लेकर नरम रवैये पर सवाल खड़े किए हैं।
उन्होंने विशेष तौर पर 29 सितंबर को प्लेन हाईजैक करने की सालगिरह को लेकर होशियारपुर में “आज़ादी” मार्च निकाले जाने का जिक्र किया है, जिसके चलते लोगों में डर और भय का माहौल है।
यहां जारी एक बयान में, वड़िंग ने कहा कि बुरा होने का डर था, बुरा हो रहा है। उन्होंने आम आदमी पार्टी के खालिस्तानी संबंधों को लेकर चेतावनी दी थी, जिसकी पुष्टि गुरपतवंत सिंह पन्नू ने की थी। उसने चुनाव में आप को वित्तीय तौर पर सहायता दी थी। यहां तक कि आप ने कभी भी पन्नू के दावों को खारिज नहीं किया।
उन्होंने आरोप लगाया कि अलगाववादी ताकतें एक बार फिर से पंजाब में अपने सिर उठा रही हैं और मुख्यमंत्री भगवंत मान व डीजीपी गौरव यादव से पूछा है कि इसे लेकर वह क्या कर रहे हैं।
हाल ही में वड़िंग ने डीजीपी को एक पत्र भी लिखा था, जिसमें उन्होंने इस तरह की गतिविधियों को लेकर चिंता जाहिर की थी, जो पंजाब में काले दिनों की दुखद यादों को ताजा कर रही हैं।
उन्होंने मुख्यमंत्री से अपील करते हुए कहा कि उस दौर को फिर से सहन नहीं कर सकते और हमें वैसा एक बार फिर से नहीं घटने देना चाहिए। इस संबंध में सख्त कदम उठाए जाने की जरूरत है और राज्य में शांति व आपसी भाईचारे की रक्षा हेतु वह पंजाब कांग्रेस की ओर से हर तरह के समर्थन का भरोसा देते हैं।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने उस तथाकथित “आज़ादी” मार्च का भी जिक्र किया, जो 29 सितंबर को 40 साल पहले हाईजैक किए गए प्लेन की सालगिरह पर निकाला गया था। उन्होंने सवाल किया कि क्या हाईजैक करना कोई खुशी मनाने का कार्य है? उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार द्वारा मामले में कोई कार्रवाई न किए जाने के चलते लोगों में इस बात का डर बढ़ा है कि आम आदमी पार्टी ऐसी ताकतों से मिली हुई है।
उन्होंने ऐसे लोगों के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई किए जाने की मांग की है, जो अलगाववादी और उग्रपंथी विचारधारा का प्रचार कर रहे हैं व सिख धर्म के नाम पर अलग-अलग समुदायों के मध्य दरार पैदा कर रहे हैं, जो सभी लोगों के मध्य शांति और आपसी भाईचारे की शिक्षा देता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!